दूल्हों के पिता की इच्छा थी कि बहू हेलिकॉप्टर से घर आए, भाई बोले- बहनों की ऐसी विदाई देखकर मन खुश हो गया

हमारे संसार में शादी को सबसे पवित्र बंधन माना जाता है और इस शादी के रिश्ते में की गई सभी रस्मो और रिवाजों को पूरे मन से निभाया जाता है और हर कोई यही चाहता है कि उसकी शादी की सभी समारोह रसमे इतने अच्छे तरीके से किए जाएं कि वह खूबसूरत यादगार लम्हे बन जाए दो दुल्हनों को हेलीकॉप्टर से रुखसत किया गया और इसी को लेकर आज हम आप से चर्चा करने जा रहे हैं.

आपको बतादे खेड़ला दौसा महुआ उपखंड के शीशवाड़ा गांव में दो दुल्हन चचेरी बहनों की विदाई हेलीकॉप्टर से हुई यह नजारा देखने के लिए बहुत से लोग जमा हो गए दुल्हनों की विदाई क्षेत्र में काफी चर्चाएं बटोर रही है.

आपको बता दें खबरों के अनुसार करौली जिले के हिंडौन सिटी के पूंछरी गांव निवासी बाबू पहलवान के दो बेटों का रिश्ता महुआ क्षेत्र के 30 वर्ष निवासी रामजीलाल पटेल की पोतियों से हुआ. शनिवार रात शादी संपन्न हो गई रविवार सुबह हेलीकॉप्टर से दोनों ही रविवार को हेलीकापटर से लड़कियां विदा हुई.दूल्हे के पिता की इच्छा थी कि वे अपने बेटों की दुल्हनों को हेलीकॉप्टर में विदा कराकर घर लेकर आए.

दुल्हे दोनों भाई सरकारी सेवा में हैं दूल्हा नरेंद्र सिंह स्कूल लेक्चरर दूसरा सुरेंद्र सिंह राजस्थान पुलिस में है. इनकी शादी बांसवाड़ा के जितेंद्र चौधरी दिनेश की बेटी सोनम व शीतल के साथ संपन्न हुई हैं.दुल्हन के पिता भी पुलिस व सीआरपीएफ में तैनात हैं. अपने बड़े भाई भूपेंद्र सिंह के साथ हेलीकॉप्टर में बिठाकर ससुराल के लिए बेटियों को विदा किया.

इसके लिए गांव के पास हेलीपैड बनाया गया था. दुल्हन बहनों की विदाई देखने के लिए काफी लोग इकट्ठे हुए. हेलीकॉप्टर के लिए महुआ एसडीएम से अनुमति ले गई.इसके लिए पुलिस सुरक्षा व्यवस्था के लिए तैनात रहे. गांव के पास सुबह जैसे हेलीकॉप्टर उतरा आसपास की भीड़ जमा हो गई.इस मौके पर परिवार वालों ने दूल्हे दुल्हनों को हेलीकॉप्टर में बैठाया.दुल्हन के भाई दावत सिंह का यह कहना था कि उनकी बहनों की ऐसी विदाई देखकर बहुत अच्छा लग रहा है. ग्रामीणों ने भी कहा अभी तक उनके गांव में शादी के बाद ऐसी विदाई नहीं हुई थी.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Primes Times अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!