खाने तक के लिए नहीं थे पैसे, स्टाफ से उधार मांगकर चलाया काम, बुरे दौर को Abhishek Bachchan ने किया याद

आज अमिताभ बच्चन जिन ऊंचाईयों पर हैं वहां से केवल कामयाबी ही कामयाबी दिखाई देती है. आज अमिताभ बच्चन के पास सब कुछ है. पोते – नातियों से भरा पूरा परिवार, दौलत, शोहरत सब कुछ. लेकिन इनकी जिंदगी में एक दौर वो भी आया था, जब इन्हें खाने तक के लाले पड़ गए थे. घर में इतने पैसे तक नहीं थे सब मिलकर रात का खाना खा सके. ये वो दौर था जब अमिताभ बच्चन बुरे आर्थिक दौर से गुजर रहे थे. हाल ही में अभिषेक बच्चन  ने उसी बुरे दौर को फिर से याद किया.

स्टाफ से उधार मांगकर चलाया था काम

एक इंटरव्यू में अभिषेक बच्चन ने बताया कि उस वक्त उनके पिता के पास इतने भी पैसे नहीं थे कि परिवार को खाना खिला सके. लिहाजा उन्होने स्टाफ तक के पैसे मांगे और परिवार का पेट भरा. उस वक्त अभिषेक बॉस्टन में एक्टिंग के गुर सीख रहे थे. लेकिन जब उन्हें परिवार की ऐसी स्थिति के बारे में पता चला तो उन्होंने कोर्स बीच में ही छोड़ने का फैसला ले लिया था. उस वक्त अभिषेक को लगा कि इस वक्त उनके पिता को उनकी ज्यादा जरूरत है. भले ही वो कुछ कर ना सके लेकिन पिता को सपोर्ट देने के लिए वो बॉस्टन से भारत लौट आए.

मजबूरत किया टीवी पर काम

हाल ही में केबीसी के 1000 एपिसोड पूरे होने पर भावुक हुए अमिताभ बच्चन ने खुलासा किया था कि केबीसी की शुरुआत उन्होंने कैसे की. जिस वक्त उन्हें केबीसी ऑफर हुआ उस वक्त वो बेहद मुश्किल भरे दौर में थे. उन्हें ना तो इंडस्ट्री में काम मिल रहा था. और ना ही उनके पास पैसे थे. तब उन्हें टेलीविजन से इस शो का ऑफर मिला तो उन्होंने मजबूरन हां कर दी. लेकिन धीरे धीरे इस शो की लोकप्रियता ने उन्हें फर्श से दोबारा अर्श पर बैठा दिया.

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Primes Times अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!